Friday, December 23, 2011

हंसना मना है,,,,,,,

हो सकता है,,,,,,,,
-------------------
मरीज़ों बीच तुम को, इन्फ़ेक्श्न हो सकता है !
अंग्रेजी दवाइयां हैं तो, रियेक्शन हो सकता है !!१!!

आपरेशन के बाद मैने,बेचारे मरीज़ से ये कहा,
पेट में कैंची,चिम्टा या, इंजेक्शन हो सकता है !!२!!

वो गूंगा है, बहरा है, तोतला है, तो क्या हुआ,
उसके कपड़ों से भी तो,अट्रेक्शन हो सकता है !!३!!

दसवीं फ़ेल रहने से, कुछ फ़र्क नहीं पड़ता है,
रिश्वत मजबूत हो तो,सिलेक्शन हो सकता है !!४!!

सुबह होते ही वो आ जाती है अपनी टेरिस पे,
कह नहीं सकते कोई,कनेक्शन हो सकता है !!५!!

पसंद न हो बीबी तो, बदल सकते हो ज़नाब,
भूल हो गई थी उसमें, करेक्शन हो सकता है !!६!!

बेगम को दूर रखो,तुम झगड़ालू पड़ोसन से,
कभी न कभी उसका,रिफ़्लेशन हो सकता है !!७!!

भीख के धंधे को तुम नाम दे दो चंदे का गर,
गारंटी है अच्छा खासा,कलेक्शन हो सकता है !!८!!

ईमान की कमाई से बच्चे न कान्वेन्ट जायेंगे,
नौकरी के कोटे में भी, डिडेक्शन हो सकता है !!९!!

कुर्सी की कोशिश में दिल से लगे रहो "राज़",
मध्यावधि में भी तो,इलेक्शन हो सकता है !!१०!!

"कवि-राजबुँदॆली"
२४/१२/२०११

9 comments:

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ said...

आपकी इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा कल सोमवारीय चर्चामंच http://charchamanch.blogspot.com/ पर भी होगी। सूचनार्थ

चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ said...

आपकी इस सुन्दर प्रविष्टि की चर्चा कल सोमवारीय चर्चामंच http://charchamanch.blogspot.com/ पर भी होगी। सूचनार्थ

रजनीश तिवारी said...

सभी पंक्तियाँ मजेदार और एक बात कहते हुए ..बहुत .सुंदर ।

Rajesh Kumari said...

gajab ki prastuti....man tha udaas dhoond rahi thi koi khushi ka bahana ki achanak aapka blog mil gaya.
itni rochak prastuti ke liye aabhar.
udaasi ke baadal chhant gaye.

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') said...

सारी! आपके मना करने पर भी हंस ही पडा....
सादर..

Naveen Mani Tripathi said...

बेगम को दूर रखो,तुम झगड़ालू पड़ोसन से,
कभी न कभी उसका,रिफ़्लेशन हो सकता है !!७!!

Vah kya khoob likha hai ap ne . mja aa gya bhai .

Naveen Mani Tripathi said...

बेगम को दूर रखो,तुम झगड़ालू पड़ोसन से,
कभी न कभी उसका,रिफ़्लेशन हो सकता है !!७!!

Vah kya khoob likha hai ap ne .. mja aa gya bhai .

dheerendra said...

बहुत सुंदर रचना,...अच्छी प्रस्तुती,
क्रिसमस की बहुत२ शुभकामनाए.....

मेरे पोस्ट के लिए--"काव्यान्जलि"--बेटी और पेड़-- मे click करे

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

फ़ोंट बहुत छोटे हो गए हैं। रचना समझ में नहीं आ रही। सुधार कर लें एवं वर्ड वेरीफ़िकेशन हटा दें।